BRAHMAKUMARIS DAILY MAHAVAKYA 3 OCTOBER 2017

To Read 2 October Mahavakya :- Click Here

*Om Shanti*
*03.10.2017*

बच्चे, आप अब अपने पुरूषार्थ में तत्पर रहो। अभी minor सा भी अलबेलापन वा लापरवाही ना हो, क्योंकि अब समय नहीं बचा है कि अभी भी पुरूषार्थ ऊपर-नीचे होता रहें…!

वैसे भी बहुत जल्दी ही वातावरण में तमोप्रधानता का प्रभाव अत्याधिक बढ़ जायेगा अर्थात् आश्चर्यजनक परिवर्तन हो जायेगा। और जिस आत्मा ने अपने ऊँच स्वमान और शिव बाप को कम्बाइन्ड रखने का ऊँचा पुरूषार्थ नहीं किया है, वह समय के बहाव में बह जायेगा और उस आत्मा के लिए मंज़िल पर पहुँचना नामुमकिन है…।
इसलिए बिना कुछ सोचे स्वयं पर attention रख ऊँचा पुरूषार्थ करो।

जब आप बच्चों का स्वयं के परिवर्तन पर full attention है अर्थात् परिवर्तन नज़र आ रहा है, और ऊँच स्वमान में स्थित हो बाप को याद करने का भी attention हैं, तो आप बेफिक्र रहो … आपका ज़िम्मेवार बाप है।
बस अलबेले मत बनना।

शिव बाप का आकर यूँ पढ़ाना, और इस समय किये गए पुरूषार्थ की value बहुत जल्दी ही आपको महसूस होगी। 
जिन्होंने अपना समय सफल किया होगा, उनकी तो बाप के साथ-साथ वाह-वाह होगी, और अन्य आत्मायें जो बाप की विशेष पालना लेकर भी खाली ही रह गई, उनपर क्या बीतेंगी…, वह तो आप सोच ही सकते हो…!

बस बाप की एक-एक बात पर निश्चय रख पुरूषार्थ करो क्योंकि अभी नहीं … तो कभी नहीं …।

अच्छा । ओम् शान्ति ।

【 *Peace Of Mind TV* 】
Tata Sky # 1065 | Airtel # 678 | Videocon # 497 | Reliance # 640 | 
Jio TV |

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Font Resize