BRAHMAKUMARIS DAILY MAHAVAKYA 8 JANUARY 2018 – Aaj Ka Purusharth

To Read 7 January Shiv Baba’s Mahavakya :- Click Here

*Om Shanti*
*08.01.2018*

★【 *आज का पुरुषार्थ* 】★

आज बाबा हम बच्चों का श्रेष्ठ स्वमान और श्रेष्ठ भाग्य देख रहे हैं … तो बाबा ने देखा कि बच्चे ऊँच स्वमान को जान भी गये हैं और मानते भी हैं कि ‘‘मैं ही हूँ…’’ ।

लेकिन, सारा दिन उस ऊँच स्वमान के नशे में स्थित हो चलने में नम्बरवार हैं। बाबा कहते हैं कि बच्चे जितना आप अपने ऊँच स्वमान के निश्चय और नशे में रहोगे, उतना ही आपका पुरूषार्थ सहज हो जायेगा अर्थात् आप मेहनत मुक्त होते जाओगे। आपका सम्पन्न स्वरूप शक्तियों और गुणों से भरपूर है, उसके आगे कोई भी परिस्थिति टिक नहीं सकती।

आप तो विश्व-परिवर्तन का कार्य करने वाले हो। 
इसलिए आप बच्चों में इतना निश्चय और नशा होना चाहिए कि ‘‘मैं ही हूँ…’’।

यह स्वयं परमात्मा ने आप बच्चों को स्मृति दिलाई है कि आप कौन हो…, किसके हो…?

तो अब आपको अपने स्वरूप में स्थित रह गुणों और शक्तियों को use करना चाहिए। अब आप अपनी दिनचर्या में इस अभ्यास को बढ़ाओ … स्मृति स्वरूप बनो।

देखो, लौकिक में भी किसी के पास चाहे कितना भी धन हो, वह जानता भी हो और मानता भी हो, परन्तु फिर भी उस धन को स्वयं के लिए अगर वह use ना करे, तो उस धन का उसके लिए कोई फायदा नहीं है ना।

इसी तरह जब तक आप अपनी शक्तियों और गुणों को emerge रख use नहीं करते, तब तक आप कमज़ोर रह हार खाते रहते हो। इसलिए अब विस्मृति से स्मृति स्वरूप बन स्वयं के साथ-साथ विश्व का भी कल्याण करो।

देखो समय कम है और लक्ष्य ऊँचा है, तो अब बार-बार अपने सम्पूर्ण स्वरूप को धारण करो।
अन्त में यही अभ्यास आपको बाप-समान बना देगा।

‘‘स्मृति का switch हमेशा ON रखो’’।

आपको स्वयं का परिवर्तन कर सम्बन्ध-सम्पर्क में आने वाली आत्माओं का भी परिवर्तन करना है, तो विश्व का भी परिवर्तन करना है। 
इसलिए विस्मृत हो अब अपने समय को व्यर्थ मत करो।

अच्छा। ओम् शान्ति।

【 *Peace Of Mind TV* 】
Tata Sky # 1065 | Airtel # 678 | Videocon # 497 | Jio TV |

1 thought on “BRAHMAKUMARIS DAILY MAHAVAKYA 8 JANUARY 2018 – Aaj Ka Purusharth”

  1. OM SHANTI
    For Brahmakumaris Centers, Kindly Provide Baba’s Muralis for entire Month in Advance. If it is not possiable , kindly provide all the Muralies in ONE WEEK Advance. This enables the Centers to have the Muralis uninterruptedly.

    We are in hope that you will consider our Request and do needful.
    BK Satyanarayana,
    for KPHB Center ,Hyderabad.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Font Resize